Pages

Thursday, May 6, 2010

घर घर मोबाईल

आई आई जागनरी बरी घर घर मोबाईल
दुनिया सा भाजी जा री घर घर मोबाईल
कई जना हाथांमें राखे कोई कोई जेबांमें राखे
कई बेल्ट रे बांध्याँ राखे,डलेवरजी साम्या राखे,
रामुड़ो रोले में राखे,बाबुडो झोले में राखे
कान्हो कान लगायाँ राखे, सारीआज लुगायां राखे,
दुनिया इण री है कायल घर घर मोबाइल
मोटर साईकल साईकल वालो ,टेम्पू ट्रक ट्रेक्टर वालो,
ओट्टो वालो,सोत्तेवालो ,लियां फिरे है कोट्टे वालो
बोलेरो,तावेरो वालो,राखे जिजो राखे सालो,
राखे गधा गाडी वालो,झोटे वालो पाड्डी वालो
मिसकोल करे घायल घर घर मोबाइल
धर्मे रे धंधे री बातां,लिछु रे ललचाई बातां ,
सन्तु रे संचोडी बातां,उद्दे रे उल्झ्योड़ी बातां
गोमो करे गाम री बातां,खेतो करे खेत री बातां,
बर्जुड़ी कानुड़ी धापी ,हेती करे हेत री बातां
सब करे

No comments:

Post a Comment